Featured Posts

[Travel][feat1]

किसान अपनाए ड्रिप एवं स्प्रिंक्लर सिंचाई प्रणाली :फुलिया

कुरुक्षेत्र, पिहोवा 4 अक्तूबर: उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने कहा कि कम खर्च पर आय को दौगुना करने के लिए किसानों को ड्रिप एवं स्प्रिंक्लर सिंचाई प्रणाली को अपनाना चाहिए। इस प्रणाली को अपनाकर किसान बेशकिमती भूजल को भी बचाने में कामयाब होंगे। इस प्रणाली को अपनाने के लिए राज्य सरकार किसानों को लगातार प्रेरित कर रही है। इतना ही नहीं राज्य सरकार ने करोड़ों रुपए का बजट खर्च करके पिहोवा के गांव गुमथला गढ़ में 9 एकड़ भूमि पर सूक्ष्म सिंचाई योजना के पायलट प्रोजैैक्ट को भी स्थापित किया गया है।

उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने किया सूक्ष्म सिंचाई योजना के पायलट प्रोजैक्ट का 
अवलोकन, राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शुमार है यह योजना

उपायुक्त वीरवार को पिहोवा के गांव गुमथला गढ़ में सिंचाई विभाग काडा द्वारा किसान कर्ण सिंह के सहयोग से 9 एकड़ भूमि में खड़ी फसल का अवलोकन करने के उपरांत किसानों से बातचीत कर रहे थे। इससे पहले उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, काडा के कार्यकारी अभियंता नीरज शर्मा व अन्य अधिकारियों ने प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत सूक्ष्म सिंचाई योजना के पायलट प्रोजैक्ट का बारिकी से निरीक्षण किया और किसानों से बातचीत की। इस दौरान उपायुक्त ने किसानों को फसल के अवशेष ना जलाने के प्रति भी जागरुक किया। उन्होंने कहा कि स्वर्ण जयंती वर्ष में राज्य सरकार ने प्रदेश के किसानों को एक नायाब सौगात दी थी। राज्य सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत सूक्ष्म सिंचाई योजना के पायलट प्रोजैक्ट को अमलीजामा पहनाया गया था। इस प्रोजैक्ट पर 24 करोड़ 65 लाख रुपए खर्च किए गए थे और इस परियोजना से 13 जिलों व 15 गांवों के लाखों किसानों का फायदा मिलेगा। अहम पहलु यह है कि इस प्लांट में सौर उर्जा पैनलों द्वारा पैदा होने वाली अतिरिक्त बिजली नजदीकी पॉवर सब-स्टेशन में भेजा गया, जो 24 घंटे प्लांट के साथ 11 केवी लाईन के साथ जुड़ा है। इस परियोजना का शुभारम्भ स्वयं मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 30 जुलाई को पिहोवा के गांव गुमथला गढ़ डेरा फतेह सिंह की पावन धरा से किया था।

उपायुक्त ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा हर खेत तक पानी पहुंचाने के उदेश्य से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत काडा हरियाणा द्वारा सूक्ष्म सिंचाई योजना के पायलट प्रोजैक्ट को स्थापित किया गया है। इस परियोजना पर कुल 24.65 करोड़ रुपए खर्च किए गए है। प्रदेश में कोई भी बारह मासी नदी नहीं है और दो तिहाई हिस्से में भूमिगत जल का स्तर खारा है। जिसके कारण जल की खपत में प्रत्यके वर्ष अप्रत्याषित वृद्धि हो रही है जबकि उपलब्ध जल की मात्रा सीमित है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भविष्य को देखते हुए पानी के महत्व को लेकर नहरी क्षेत्र विकास प्राधिकरण हरियाणा को पायलट परियोजना तैयार करने के आदेश दिए थे। इस योजना से सूक्ष्म सिंचाई के लिए किसानों को प्रैशर के साथ नहरी पानी मिलेगा और इस पानी को टपका सिंचाई व फव्वारा सिंचाई विधि के द्वारा प्रयोग में लाया जा सकेगा। इससे पानी की खपत में कमी आएगी और ज्यादा से ज्यादा किसानों को पानी मिल पाएगा। इससे सरकार के हर खेत को पानी के लक्ष्य को साकार किया जा सकेगा।



किसान अपनाए ड्रिप एवं स्प्रिंक्लर सिंचाई प्रणाली :फुलिया किसान अपनाए ड्रिप एवं स्प्रिंक्लर सिंचाई प्रणाली :फुलिया Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 10/05/2018 04:06:00 pm Rating: 5

अफ़ीम रखने के आरोप में अदालत ने सुनाई दो वर्ष छ: महीने की क़ैद व जुर्माना की सजा


कुरुक्षेत्र 5अक्टूबर अतिरिक्त ज़िला एवं सत्र न्यायाधीश,कुरुक्षेत्र ने एक आरोपी को अफीम रखने के आरोप में दो वर्ष छ: महीने की क़ैद व पच्चीस हजार रुपए की सज़ा सुनाई। यह जानकारी देते हुए जिला उप न्यायवादीश्रीमती शशी भौरिया ने बताया कि उप नि० जगपाल, मुख्य सिपाही सतीश कुमार, मुख्य सिपाही नरेश कुमार, सी-1 दीपक कुमार सिपाही जय पाल व चालक सी -1की टीम को एक समाज सहयोगी ने सूचना दी कि एक व्यक्ति जिसका नाम गुरुनाम सिंह उर्फ़ गामा पुत्र करनैल सिंह वासी देर भीखी वाला कैथल रोड़ निशिंग जिला करनाल अफ़ीम बेचने के लिए देवी लाल पार्क के गेट न०2 के पास अफ़ीम बेचने के लिए खड़ा है,जिसको तुरन्त काबू करके उसके पास से अफीम बरामद की जा सकती है। जिसकी सूचना पर उप निरीक्षक जगपाल की टीम ने NDPS ACT के नियमों का का पालन करते हुए नियम अनुसार गिरफ्तार करके उसके कब्ज़ा से 380 ग्राम अफ़ीम बरामद की। 

           थाना सदर थानेसर मे मामला दर्ज करके आरोपी को माननीय न्यायालय में पेश किया ।जिस पर माननीय अतिरिक्त एवं सत्र न्यायाधीश श्री सुभाष चन्द्र सिरोही कीअदालत ने नियमित सुनवाई करते हुए गवाहों व सबूतों के आधार पर दोषी करार दिया और दोषी गुरुनाम सिंह को दो वर्ष छ: महीने की कैद पच्चीस हजार रुपए जुर्माने  की सजा सुनाई। जुर्माना न देने की सूरत में तीन महीने की सजा अतिरिक्त भुगतनी होगी ।
अफ़ीम रखने के आरोप में अदालत ने सुनाई दो वर्ष छ: महीने की क़ैद व जुर्माना की सजा अफ़ीम रखने के आरोप में अदालत ने सुनाई दो वर्ष छ: महीने की क़ैद व  जुर्माना की सजा Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 10/05/2018 03:28:00 pm Rating: 5

नशीला पदार्थ रखने के आरोप में दोषी को हुई तीन साल की कैद व जुर्माना


कुरुक्षेत्र 5अक्टूबर  अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुरुक्षेत्र की अदालत ने एक व्यक्ति को स्मैक रखने के आरोप में तीन साल की कैद व जुर्माना  की सजा  सुनाई। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुरुक्षेत्र की अदालत ने एक व्यक्ति को 37 ग्राम स्मैक रखने के आरोप में बग्गा सिंह पुत्र गुरबचन सिंह को तीन साल की क़ैद व तीस हजार रूपये जुर्माना की सज़ा सुनाई।जुर्माना न भरने की सूरत में तीन महीने की अतिरिक्त सजा काटनी होगी यह जानकारी उप जिला न्यायवादी श्री मैन पाल ने दी।

           यह जानकारी देते हुए श्री पाल ने बताया कि 30अगस्त2016 को अपराध शाखा -1के स०उ० नि०सुरजीत सिंह, मुख्य सिपाही प्रवीण कुमार,मुख्य सिपाही लखन सिंह, सिपाही अनिरुद्ध व चालक मुख्य सिपाही नवदीप सिंह की टीम को एक समाज सहयोगी ने सूचना दी कि एक व्यक्ति जिसका नाम बग्गा सिंह पुत्र गुरबचन सिंह वासी गुमथला गड़ू जिसके पास स्मैक है ,जिस पर तुरन्त रैड अगर राइड की जाए तो स्मैक सहित क़ाबू आ सकता है। जिसकी सूचना पर नशीली वस्तु अधिनियम के नियमों की पालना करते हुए नियम अनुसार कार्यवाही करते हुए तत्कालीन उप पुलिस अधीक्षक पेहवा,  अशोक कुमार बख्शी को मौक़ा पर बुलाया गया। तलाशी के दौरान उप पुलिस अधीक्षक पेहवा ने उसके कब्जे से 37 ग्राम स्मैक बरामद की तथा विधि अनुसार गिरफ्तार करके अदालत मे पेश किया । जिसकी नियमित सुनवाई करते हुए माननीय न्यायधीश श्री राकेश सिंह की अदालत ने नियमित सुनवाई करते हुए गवाहों एवं सबूतों के आधार पर दोषी करार दिया और दोषी को तीन साल की कैद व तीस हजार रुपए जुर्माना की सजा सुनाई ।जुर्माना न देने की सूरत में तीन महीने की अतिरिक्त सजा काटनी पड़ेगी।
नशीला पदार्थ रखने के आरोप में दोषी को हुई तीन साल की कैद व जुर्माना नशीला पदार्थ रखने के आरोप में दोषी को हुई  तीन साल की कैद व जुर्माना  Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 10/05/2018 03:20:00 pm Rating: 5

गर्भपात की दवाई बेचते हुए एक काबू।


कुरूक्षेत्र 5 अक्तुबर। थाना लाडवा ने एक व्यक्ति को गर्भपात की दवाई बेचते हुए किया काबू। यह जानकारी देते हुए प्रलिस प्रवक्ता ने बताया कि गत दिवस ऋषि  सैनी एम0ओं. पी0एच0सी0 बाबैन को किसी समाज सहयोगी ने गुप्त सूचना दी की गांव धयान्ला में एक व्यक्ति बिना लाईसैंस व बिना परमिट के गर्भपात होने की दवाई बेच रहा है। गुप्त सूचना के आधार पर ऋषि सैनी ने पुलिस टीम को अपने साथ लेकर गांव धयान्ला में रैड की तो एक व्यक्ति को गर्भपात कराने की दवाई बेचते हुए काबू किया । उसका नाम व पता पुछने पर उसने अपना नाम महेन्द्र वासी महुआ खेडी बताया।

      पूछताछ के दौरान उसके पास दवाई बेचने की किसी प्रकार की कोई डिग्री या डिप्लोमा नही पाया गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफतार करके थान बाबैन में मामला दर्ज कर जांच आरम्भ कर दी है। 
गर्भपात की दवाई बेचते हुए एक काबू। गर्भपात की दवाई बेचते हुए एक काबू। Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 10/05/2018 03:09:00 pm Rating: 5

सलारपुर रोड से मोटरसाईकिल चोरी।


कुरूक्षेत्र 5 अक्तुबर। न्यु सब्जी मण्डी सलारपुर रोड से मोटरसाईकिल चोरी का मामला दर्ज किया गया । थाना शहर थाानेसर में पुलिस को दी अपनी शिकायत में राजेश कुमार वासी आलमपुर ने बताया कि दिनांक 17 सितम्बर को जब वह अपनी मोटरसाईकिल को न्यु सब्जी मण्डी सलारपुर रोड पर खडी करके कुछ काम गया था लेकिन वापिस आने पर उसकी मोटरसाईकिल वहां पर नही थी जिसकी उसने अपने तौर पर हर जगह तलाश की पर मोटरसाईकिल नही मिली ।

शिकायतकर्ता  ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति उसकी मोटरसाईकिल को चोरी करके ले गया है  जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर मोटरसाईकिल की तलाश  शुरू कर दी है। 
सलारपुर रोड से मोटरसाईकिल चोरी। सलारपुर रोड से मोटरसाईकिल चोरी। Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 10/05/2018 03:05:00 pm Rating: 5

अवैध रूप से शराब बेचते हुए तीन व्यक्ति काबू।


कुरूक्षेत्र 5 अक्तुबर। जिला पुलिस कुरूक्षेत्र ने अलग अलग जगहों पर अवैध रूप से शराब बेचने वाले तीन व्यकितों  को किया काबू। यह जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता रोशन लाल ने बताया कि गत दिवस थाना शहर थानेसर के एएसआई बलबीर सिहं ने गुप्त सूचना के आधार पर मिहालेश वासी रतगल को रेलवे रोड राजमहल के सामने अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबू किया और उसके कब्जे से 14 बोतल शराब ठेका देशी बरामद की।

          थाना के0यु0के0 के ए.एस.आई गुलजार सिहं ने विजय वासी न्यू कालोनी मिर्जापुर को न्यू कालोनी मिर्जापुर पर अवैध रूप से शराब बेचते हुए काबु किया और उसके कब्जे से 10 बोतल ठेका देशी शराब बरामद की।

                        एक अन्य मामले में थाना शाहबाद के एसआई सत्यवान ने गुप्त सूचना के आधार पर कृपाल सिहं उर्फ पाला वासी मदुदा को गांव मदुदा से एक लिटर अवैध शराब के साथ काबू किया। पुलिस ने तीनों आरोपियो को गिरफतार करके आबकारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जांच आरम्भ कर दी है।
अवैध रूप से शराब बेचते हुए तीन व्यक्ति काबू। अवैध रूप से शराब बेचते हुए तीन व्यक्ति काबू। Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 10/05/2018 03:02:00 pm Rating: 5

बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी


कुरूक्षेत्र के कस्बा इस्माइलाबाद में बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी, सोनीपत एसटीएफ टीम व थाना इस्माइलाबाद के प्रबन्धक उप निरीक्षक सतीश कुमार, एसआई सुरेन्द्र कुमार, हवलदार शमशेर  सिंह, सि-1 रमेश कुमार, सिपाही नसीब भी रेड के समय मौके पर मौजूद थे तथा काम कर 16 लोग को काबू किया और हजारों शराब की बोतलों का अवैध जखीरा भी बरामद किया।
एसटीएफ की टीम ने जब छापा मारा तो टीम भी भोैचकी रह गयी क्योंकि मौके से आर0ओ0 पानी के भरे हुए हजारों लीटर के कई बडे टैंक और सिप्रिट से भरा हुआ टैंक सहित आॅटोमेटिक बोटलिंग मषीन जिस मषीन से शराब बनने के बाद बोतलों को सील किया जा रहा था।
एसटीएफ टीम के डीएसपी राहुल देव ने बताया कि मौके से फैक्ट्री के दो मालिक फरार हो गए जबकि उन्होने काम कर रहे 16 लेबर के लोगों को मौके से पकड लिया है और फिलहाल शराब की बोतलों की गिनती चल रही है डीएसपी राहुल देव ने बताया कि वह छानबीन कर रहे है कि आखिर कब से यह फैक्ट्री इस इलाके में चल रही थी और कहाॅ-कहाॅ सप्लाई थी। बंद पडे राइस मिल के अन्दर शराब की फैक्ट्री चल रही थी लेकिल बाहर से देखने पर ऐसा कुछ भी मालूम नही होता था कि अन्दर इतना बडा जखीरा अवैध शराब का बन रहा है।
अवैध शराब जहाॅ आस-पास के उन उपभोक्ताओं के लिए खतरा बनी हुई थी वही प्रदेश  सरकार के राजस्व विभाग को चूना लगा रही थी और आस पास के इलाके में नषे की जडों को गहरी करने में अवैध फैक्ट्री का बडा हाथ था।
बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 9/15/2018 06:08:00 pm Rating: 5

जिला कुरुक्षेत्र पुलिस द्वारा गत रात्रि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी


कुरूक्षेत्र 15 सितम्बर- पुलिस महानिदेशक  हरियाणा के आदेश अनुसार जिला पुलिस कुरुक्षेत्र द्वारा गत रात्रि जिला भर में अपराधों की रोक थाम पर विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी की गई। नाकाबंदी के दौरान संदिग्ध व्यक्तियों की चैकिंग और वाहनों की चैकिंग का अभियान चलाया। चैकिग अभियान के दौरान पुलिस ने कुल 2125 वाहनों की जांच की और 269 बोतल अवैध शराब को अवैध रूप से ले जाते हुए काबू करने में सफलता हासिल की है। इस नाईट डोमिनेशन  के दौरान स्वयं पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र पाल सिंह, उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय राज सिंह, उप पुलिस अधीक्षक शहर कुरुक्षेत्र श्री मति तान्या सिंह, उप पुलिस अधीक्षक पेहवा धीरज कुमार और उप पुलिस अधीक्षक शाहबाद जगदीश राय, उप पुलिस अधीक्षक लाडवा रमेश गुलिया और उप पुलिस अधीक्षक यातायात जितेन्द्र कुमार आदि ने भी पूरी रात वाहनों की चैकिंग कर रहे मुलजमानों पर नजर बनाये रखी। जिला कुरुक्षेत्र के सभी प्रबंधक थाना जात व प्रबंधक थाना महिला भी अपने-अपने क्षेत्रों में रात भर चैकिंग पर रहे।

                             नाईट डोमिनेशन के तहत 130 चालान व 1 व्हीकल ईम्पाऊड।
इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुये श्री सिहं ने बताया कि पुलिस महानिदेशक हरियाणा की तरफ से किसी भी दिन सुनिश्चित करके पूरे प्रदेष के पुलिस अधीक्षको को अचानक नाकाबंदी करके अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए निर्देष दिये जाते है जिसकी अनुपालना में जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने रात्री 10 बजे से लेकर सुबह 4 बजे तक 40 नाके लगा कर अपराधिक प्रवृती के लोगों वा संदिग्ध वाहनों का चैकिंग अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि रात को जिला कुरुक्षेत्र के मोहन नगर, झांसा चुंगी, सलारपुर रोड, ब्रह्मा चैंक, पूजा कट, टी प्वाइंट सैक्टर 2-3, उमरी रोड, इस्सरगढ रोड बाबैन रोड, थर्डगेट पुलिस चैकी के सामने, अमीन टी प्वाइंट, पिंडारसी बस अड्डा, टी प्वाइंट किरमच रोड, पुलिस चैकी ज्योतिसर के सामने, बदरपुर नहर पुल, इंद्री चैक लाडवा, टी प्वाइंट बाबैन सुनारिया रोड, बीड मंगौली चैक, गजलाना बस अड्डा, टी प्वाइंट अनाज मंडी बराडा रोड शाहाबाद, साहा रोड टी प्वाइंट शाहाबाद, अनाज मंडी टी प्वाइंट लाडवा रोड, नलवी ठोल रोड कलसानी चैक, कुम्हार माजरा, रोशनपुरा रोड, जलबेहड़ा घग्गर पुल, ठोल टी प्वाइंट, नहर पुल झांसा मंदिर, शांति नगर कुरडी, कैंची कट ढांड रोड पेहवा, गुमथला गढु चैकी के सामने, टयूकर पटियाला पंजाब बार्डर, कराह साहिब, पेहवा चैक पेहवा और चीका रोड मोरथली सहित लगभग 40 स्थानों पर नाकाबंदी की गई थी। 

  इन सभी नाकों पर कुरूक्षेत्र पुलिस के करीब 300 जवानों को छोटे व बडे हथियारों व रिफलेटिव जैकेटस के साथ तैनात किया गया था जिससे आने वाले वाहनों को पता चले कि सामने नाकाबंदी की हुई है। 
श्री सिहं ने बताया कि जांच अभियान के दौरान पुलिस की 32 राइडर, 27 पी.सी.आर. के साथ पैदल गष्त भी लगाई गई इस के अतिरिक्त सभी उप पुलिस अधीक्षक कुरूक्षेत्र,  सभी प्रबन्धक थाना जात वा सभी चैंकी प्रभारी भी इस दौरान पूरी रात चैकिंग गष्त करते रहे। उन्होंने बताया कि चैकिंग के दौरान सभी नाकों पर पुलिस ने कुल 2125 वाहनों को जिसमें 528 दुपहिया वाहन, 651 फोर व्हीलर, 411 लाइट व्हीकल व 536 हैवी व्हीकलों की जांच की और चैकिंग के दौरान पुलिस ने 130 वाहनों के चालान के साथ साथ 1 वाहन को ईम्पाइऊड और 269 बोतल अवैध शराब बरामद की । इस दौरान श्री सिंह ने नाको पर डयुटी कर रहे मुलाजमानो को उचित दिशा-निर्देश भी दिये और डयुटी के दौरान अति सतर्क पुलिस कर्मचारियों को अच्छी डयुटी करने के लिए उनके प्रशंसा -पत्र देकर उनको प्रोत्साहित किया। प्रषसा पत्र पाने वाले एएसआई धर्मबीर, सी-1 सुनील कुमार, सिपाही अमित कुमार व अन्य कर्मचारियों को प्रशंसा -पत्र दिये। सी0 आई0 ए0 एक व दो द्वारा भी अपराधियों की धर पकड के लिए होटलो व ढाबों पर रुकने वाले ट्रको व अन्य वाहनों को भी चैक किया। 
जिला कुरुक्षेत्र पुलिस द्वारा गत रात्रि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी जिला कुरुक्षेत्र पुलिस द्वारा गत रात्रि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 9/15/2018 05:42:00 pm Rating: 5

रेलवे की सिग्नल प्रणाली बदलना तय, विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका


नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस वर्ष की शुरुआत में प्रधानमंत्री के समक्ष भारतीय रेल की गई-गुजरी सिग्नल प्रणाली के नवीनीकरण का प्रस्ताव रखा था। उनका कहना था कि मौजूदा सिग्नल प्रणाली ट्रेनों की रफ्तार में बाधक होने के साथ-साथ ट्रेनों की लेटलतीफी और हादसों के लिए जिम्मेदार है।
सिग्नल प्रणाली के आधुनिकीकरण के रेलवे के प्रस्ताव को कुछ संशोधन के साथ प्रधानमंत्री की हरी झंडी मिल गई है। इस संबंध में कैबिनेट नोट तैयार हो रहा है, जिसे शीघ्र ही मंत्रिमंडल के विचार विमर्श  प्रस्तुत किया जाएगा। संशोधित प्रस्ताव के तहत विदेशी कंपनियों के अलावा देश की सार्वजनिक व निजी दोनों तरह की कंपनियों को सिग्नल प्रणाली के उन्नयन का मौका दिया जाएगा।
इसलिए इसके स्थान पर हमें अत्याधुनिक यूरोपीय ट्रेन कंट्रोल सिस्टम-2 सिग्नल प्रणाली को अपनाना चाहिए। यह प्रणाली तीनों समस्याओं से एक साथ निजात दिलाने में सक्षम है। इस संबंध में गोयल ने सार्वजनिक क्षेत्र की दो कंपनियों- पावरग्रिड और रेलटेल के अलावा कुछ बड़ी विदेशी कंपनियों का नाम सुझाया था। उनका मानना था कि यदि इन कंपनियों को अनुबंध दिए जाएं तो रेलवे को एक अच्छी बचत हो सकती है।

सूत्रों के अनुसार, संशोधित प्रस्ताव के तहत नई सिग्नल प्रणाली होगी तो यूरोपीय ट्रेन कंट्रोल सिस्टम-2 की तर्ज पर ही। लेकिन उसके कार्यान्वयन में विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका दिया जाएगा। कैबिनेट नोट को हरी झंडी मिलते ही प्राथमिकता के आधार पर रूटों का चयन कर वैश्विक टेंडर आमंत्रित किए जाएंगे।
यूरोपीय ट्रेन कंट्रोल सिस्टम-2 में ट्रेनों का संचालन लंबे ब्लॉकों के बजाय अपेक्षाकृत छोटे ब्लॉकों पर किया जाता है। जिससे दो ट्रेनों के बीच मात्र 500 मीटर का अंतराल रखने की जरूरत होती  है। इससे किसी रूट पर एक ट्रेन के प्रस्थान के एक मिनट बाद ही दूसरी ट्रेन रवाना की जा सकती है। मौजूदा प्रणाली में दो ट्रेनों के बीच कम से कम दस मिनट अथवा बीस किलोमीटर का अंतराल ऑटोमैटिक सिग्नल में रखना पड़ता है।
रेलवे की सिग्नल प्रणाली बदलना तय, विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका रेलवे की सिग्नल प्रणाली बदलना तय, विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 9/15/2018 04:35:00 pm Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.