Featured Posts

[Travel][feat1]

बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी


कुरूक्षेत्र के कस्बा इस्माइलाबाद में बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी, सोनीपत एसटीएफ टीम व थाना इस्माइलाबाद के प्रबन्धक उप निरीक्षक सतीश कुमार, एसआई सुरेन्द्र कुमार, हवलदार शमशेर  सिंह, सि-1 रमेश कुमार, सिपाही नसीब भी रेड के समय मौके पर मौजूद थे तथा काम कर 16 लोग को काबू किया और हजारों शराब की बोतलों का अवैध जखीरा भी बरामद किया।
एसटीएफ की टीम ने जब छापा मारा तो टीम भी भोैचकी रह गयी क्योंकि मौके से आर0ओ0 पानी के भरे हुए हजारों लीटर के कई बडे टैंक और सिप्रिट से भरा हुआ टैंक सहित आॅटोमेटिक बोटलिंग मषीन जिस मषीन से शराब बनने के बाद बोतलों को सील किया जा रहा था।
एसटीएफ टीम के डीएसपी राहुल देव ने बताया कि मौके से फैक्ट्री के दो मालिक फरार हो गए जबकि उन्होने काम कर रहे 16 लेबर के लोगों को मौके से पकड लिया है और फिलहाल शराब की बोतलों की गिनती चल रही है डीएसपी राहुल देव ने बताया कि वह छानबीन कर रहे है कि आखिर कब से यह फैक्ट्री इस इलाके में चल रही थी और कहाॅ-कहाॅ सप्लाई थी। बंद पडे राइस मिल के अन्दर शराब की फैक्ट्री चल रही थी लेकिल बाहर से देखने पर ऐसा कुछ भी मालूम नही होता था कि अन्दर इतना बडा जखीरा अवैध शराब का बन रहा है।
अवैध शराब जहाॅ आस-पास के उन उपभोक्ताओं के लिए खतरा बनी हुई थी वही प्रदेश  सरकार के राजस्व विभाग को चूना लगा रही थी और आस पास के इलाके में नषे की जडों को गहरी करने में अवैध फैक्ट्री का बडा हाथ था।
बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी बंद पडे एक राइस मिल मे अवैध रूप से चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्ट्री पकडी Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 18:08 Rating: 5

जिला कुरुक्षेत्र पुलिस द्वारा गत रात्रि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी


कुरूक्षेत्र 15 सितम्बर- पुलिस महानिदेशक  हरियाणा के आदेश अनुसार जिला पुलिस कुरुक्षेत्र द्वारा गत रात्रि जिला भर में अपराधों की रोक थाम पर विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी की गई। नाकाबंदी के दौरान संदिग्ध व्यक्तियों की चैकिंग और वाहनों की चैकिंग का अभियान चलाया। चैकिग अभियान के दौरान पुलिस ने कुल 2125 वाहनों की जांच की और 269 बोतल अवैध शराब को अवैध रूप से ले जाते हुए काबू करने में सफलता हासिल की है। इस नाईट डोमिनेशन  के दौरान स्वयं पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र पाल सिंह, उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय राज सिंह, उप पुलिस अधीक्षक शहर कुरुक्षेत्र श्री मति तान्या सिंह, उप पुलिस अधीक्षक पेहवा धीरज कुमार और उप पुलिस अधीक्षक शाहबाद जगदीश राय, उप पुलिस अधीक्षक लाडवा रमेश गुलिया और उप पुलिस अधीक्षक यातायात जितेन्द्र कुमार आदि ने भी पूरी रात वाहनों की चैकिंग कर रहे मुलजमानों पर नजर बनाये रखी। जिला कुरुक्षेत्र के सभी प्रबंधक थाना जात व प्रबंधक थाना महिला भी अपने-अपने क्षेत्रों में रात भर चैकिंग पर रहे।

                             नाईट डोमिनेशन के तहत 130 चालान व 1 व्हीकल ईम्पाऊड।
इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुये श्री सिहं ने बताया कि पुलिस महानिदेशक हरियाणा की तरफ से किसी भी दिन सुनिश्चित करके पूरे प्रदेष के पुलिस अधीक्षको को अचानक नाकाबंदी करके अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए निर्देष दिये जाते है जिसकी अनुपालना में जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने रात्री 10 बजे से लेकर सुबह 4 बजे तक 40 नाके लगा कर अपराधिक प्रवृती के लोगों वा संदिग्ध वाहनों का चैकिंग अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि रात को जिला कुरुक्षेत्र के मोहन नगर, झांसा चुंगी, सलारपुर रोड, ब्रह्मा चैंक, पूजा कट, टी प्वाइंट सैक्टर 2-3, उमरी रोड, इस्सरगढ रोड बाबैन रोड, थर्डगेट पुलिस चैकी के सामने, अमीन टी प्वाइंट, पिंडारसी बस अड्डा, टी प्वाइंट किरमच रोड, पुलिस चैकी ज्योतिसर के सामने, बदरपुर नहर पुल, इंद्री चैक लाडवा, टी प्वाइंट बाबैन सुनारिया रोड, बीड मंगौली चैक, गजलाना बस अड्डा, टी प्वाइंट अनाज मंडी बराडा रोड शाहाबाद, साहा रोड टी प्वाइंट शाहाबाद, अनाज मंडी टी प्वाइंट लाडवा रोड, नलवी ठोल रोड कलसानी चैक, कुम्हार माजरा, रोशनपुरा रोड, जलबेहड़ा घग्गर पुल, ठोल टी प्वाइंट, नहर पुल झांसा मंदिर, शांति नगर कुरडी, कैंची कट ढांड रोड पेहवा, गुमथला गढु चैकी के सामने, टयूकर पटियाला पंजाब बार्डर, कराह साहिब, पेहवा चैक पेहवा और चीका रोड मोरथली सहित लगभग 40 स्थानों पर नाकाबंदी की गई थी। 

  इन सभी नाकों पर कुरूक्षेत्र पुलिस के करीब 300 जवानों को छोटे व बडे हथियारों व रिफलेटिव जैकेटस के साथ तैनात किया गया था जिससे आने वाले वाहनों को पता चले कि सामने नाकाबंदी की हुई है। 
श्री सिहं ने बताया कि जांच अभियान के दौरान पुलिस की 32 राइडर, 27 पी.सी.आर. के साथ पैदल गष्त भी लगाई गई इस के अतिरिक्त सभी उप पुलिस अधीक्षक कुरूक्षेत्र,  सभी प्रबन्धक थाना जात वा सभी चैंकी प्रभारी भी इस दौरान पूरी रात चैकिंग गष्त करते रहे। उन्होंने बताया कि चैकिंग के दौरान सभी नाकों पर पुलिस ने कुल 2125 वाहनों को जिसमें 528 दुपहिया वाहन, 651 फोर व्हीलर, 411 लाइट व्हीकल व 536 हैवी व्हीकलों की जांच की और चैकिंग के दौरान पुलिस ने 130 वाहनों के चालान के साथ साथ 1 वाहन को ईम्पाइऊड और 269 बोतल अवैध शराब बरामद की । इस दौरान श्री सिंह ने नाको पर डयुटी कर रहे मुलाजमानो को उचित दिशा-निर्देश भी दिये और डयुटी के दौरान अति सतर्क पुलिस कर्मचारियों को अच्छी डयुटी करने के लिए उनके प्रशंसा -पत्र देकर उनको प्रोत्साहित किया। प्रषसा पत्र पाने वाले एएसआई धर्मबीर, सी-1 सुनील कुमार, सिपाही अमित कुमार व अन्य कर्मचारियों को प्रशंसा -पत्र दिये। सी0 आई0 ए0 एक व दो द्वारा भी अपराधियों की धर पकड के लिए होटलो व ढाबों पर रुकने वाले ट्रको व अन्य वाहनों को भी चैक किया। 
जिला कुरुक्षेत्र पुलिस द्वारा गत रात्रि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी जिला कुरुक्षेत्र पुलिस द्वारा गत रात्रि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 17:42 Rating: 5

रेलवे की सिग्नल प्रणाली बदलना तय, विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका


नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस वर्ष की शुरुआत में प्रधानमंत्री के समक्ष भारतीय रेल की गई-गुजरी सिग्नल प्रणाली के नवीनीकरण का प्रस्ताव रखा था। उनका कहना था कि मौजूदा सिग्नल प्रणाली ट्रेनों की रफ्तार में बाधक होने के साथ-साथ ट्रेनों की लेटलतीफी और हादसों के लिए जिम्मेदार है।
सिग्नल प्रणाली के आधुनिकीकरण के रेलवे के प्रस्ताव को कुछ संशोधन के साथ प्रधानमंत्री की हरी झंडी मिल गई है। इस संबंध में कैबिनेट नोट तैयार हो रहा है, जिसे शीघ्र ही मंत्रिमंडल के विचार विमर्श  प्रस्तुत किया जाएगा। संशोधित प्रस्ताव के तहत विदेशी कंपनियों के अलावा देश की सार्वजनिक व निजी दोनों तरह की कंपनियों को सिग्नल प्रणाली के उन्नयन का मौका दिया जाएगा।
इसलिए इसके स्थान पर हमें अत्याधुनिक यूरोपीय ट्रेन कंट्रोल सिस्टम-2 सिग्नल प्रणाली को अपनाना चाहिए। यह प्रणाली तीनों समस्याओं से एक साथ निजात दिलाने में सक्षम है। इस संबंध में गोयल ने सार्वजनिक क्षेत्र की दो कंपनियों- पावरग्रिड और रेलटेल के अलावा कुछ बड़ी विदेशी कंपनियों का नाम सुझाया था। उनका मानना था कि यदि इन कंपनियों को अनुबंध दिए जाएं तो रेलवे को एक अच्छी बचत हो सकती है।

सूत्रों के अनुसार, संशोधित प्रस्ताव के तहत नई सिग्नल प्रणाली होगी तो यूरोपीय ट्रेन कंट्रोल सिस्टम-2 की तर्ज पर ही। लेकिन उसके कार्यान्वयन में विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका दिया जाएगा। कैबिनेट नोट को हरी झंडी मिलते ही प्राथमिकता के आधार पर रूटों का चयन कर वैश्विक टेंडर आमंत्रित किए जाएंगे।
यूरोपीय ट्रेन कंट्रोल सिस्टम-2 में ट्रेनों का संचालन लंबे ब्लॉकों के बजाय अपेक्षाकृत छोटे ब्लॉकों पर किया जाता है। जिससे दो ट्रेनों के बीच मात्र 500 मीटर का अंतराल रखने की जरूरत होती  है। इससे किसी रूट पर एक ट्रेन के प्रस्थान के एक मिनट बाद ही दूसरी ट्रेन रवाना की जा सकती है। मौजूदा प्रणाली में दो ट्रेनों के बीच कम से कम दस मिनट अथवा बीस किलोमीटर का अंतराल ऑटोमैटिक सिग्नल में रखना पड़ता है।
रेलवे की सिग्नल प्रणाली बदलना तय, विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका रेलवे की सिग्नल प्रणाली बदलना तय, विदेशी कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की देशी कंपनियों को भी मौका Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 16:35 Rating: 5

JNU में मतगणना के दौरान हुआ बवाल, चुनाव समिति ने लगाया आरोप


नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में छात्रसंघ चुनाव में तनाव पैदा हो गया है। शुक्रवार को  हुए मतदान के बाद रात में ही मतों की गिनती शुरू कर दी गई। लेकिन कुछ ही देर बाद इसे रोकना पड़ा। दरअसल, मतगणना के दौरान चुनाव में खड़े एक दल के प्रत्याशियों पर मारपीट का आरोप लगा है। चुनाव समिति ने आरोप लगाया है कि अध्यक्ष और संयुक्त सचिव पद के प्रत्याशी ने चुनाव समिति के साथ मारपीट की। इतना ही नहीं उन्होंने चुनाव समिति की महिला सदस्यों के साथ भी मारपीट की गई है। यहां तक कि दरवाजे भी तोड़े गए।

चुनाव मैदान में उतरे वाम संगठनों ने आरोप लगाया है कि देर रात एबीवीपी के उम्मीदवारों और कार्यकर्ताओं ने यह उत्पात मचाया है। देर रात सभी काउंसलर पदों में हार की सूचना से बौखलाए एबीवीपी समर्थकों ने मारपीट और तोडफोड़ की है। फिलहाल एबीबीपी ने इस बारे में अभी तक कोई टिप्पणी नही दी है।आरोप है कि जेएनयू छात्र संघ चुनाव समिति की तरफ से मतगणना के पहले राउंड की काउंटिंग जो साइंस स्कूल और अन्य स्पेशल सेन्टर में शुरू हुई थी। उसके शुरू होने के समय एबीवीपी के काउंटिंग एजेंट को बुलाए बिना चुनाव समिति के सदस्यों ने लेफ्ट के कार्यकर्ताओं के साथ काउंटिंग शुरू कर दी। चुनाव समिति के मेंबर्स और लेफ्ट दोनों मिलकर साजिश और धांधली कर रहे है। ऐसा चुनाव का हम नहीं मानते हैं। हमें काउंटिंग में नहीं बुलाया जा रहा है।

इससे पहले जेएनयू छात्र संघ चुनाव के लिए शुक्रवार सुबह 10 बजे से शाम 5.30 बजे तक वोट डाले गए। बीते वर्षों की तुलना में इस साल छात्रसंघ चुनाव में रिकॉर्ड तोड़ मतदान हुआ। 68 फीसदी  विद्यार्थियों ने मतदान दिया। 8700 छात्रों से 7650 ने मतदान में हिस्सा लिया।मुख्य चुनाव अधिकारी हिमांशु कुलश्रेष्ठ ने कहा कि 2012 में सुप्रीम कोर्ट की लिंगदोह समिति की सिफारिशों को जेएनयू में लागू किया गया था। उसके बाद समिति की सिफारिशों के अनुरूप चुनाव होते रहे। बीते सात वर्षों में कभी भी 60 फीसदी  वोट नहीं डाले गए, जबकि इस बार 68 फीसदी  मतदान हुआ।

JNU में मतगणना के दौरान हुआ बवाल, चुनाव समिति ने लगाया आरोप JNU में मतगणना के दौरान हुआ बवाल, चुनाव समिति ने लगाया आरोप Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 16:10 Rating: 5

आज डीजल-पेट्रोल की मंहगाई से किसान बर्बाद है। हर चीज मंहगी हो गई है,2019 का चुनाव ही 2022 का रास्ता खोलेगा:अखिलेश

उत्तर प्रदेश :समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव एवं राष्ट्रीय महासचिव प्रो0 रामगोपाल यादव ने आज सैफई में हरी झंडी दिखाकर ‘सामाजिक न्याय एवं प्रजातंत्र बचाओं-देश बचाओं ‘ साइकिल यात्रा को दिल्ली के लिए रवाना किया। इस यात्रा की शुरूआत 27 अगस्त 2018 को गाजीपुर से हुई थी और इसका समापन 23 सितम्बर 2018 को जंतर-मंतर दिल्ली में होगा। साइकिल यात्रा के आयोजक इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अभिषेक यादव, आदिल हमजा और चंद्रशेखर चैधरी हैं।इस अवसर पर धर्मेन्द्र यादव सांसद, तेज प्रताप सिंह सांसद, राम सिंह शाक्य पूर्व सांसद, प्रदीप यादव पूर्व सांसद, राजू यादव विधायक तथा अरविन्द यादव एम एल  भी उपस्थित थे।
 
सैफई में साइकिल चलाकर आए सैकड़ों नौजवानांे और उपस्थित कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए  अखिलेश यादव ने कहा कि सामाजिक न्याय यात्रा के माध्यम से हम लोगों को सावधान करना चाहते हैं। भाजपा ने देश में जातियों के बीच नफरत फैलाने का काम किया है। हम चाहते हैं कि सबको आबादी के अनुपात में हक और सम्मान दिया जाए। किसी का हक न छीना जाए। सबको न्याय मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि सन् 2019 का चुनाव बड़ी परीक्षा है। 2019 का चुनाव ही 2022 का रास्ता खोलेगा।
 यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के लोग देश को आगे ले जाने की बात करते हैं, भाजपा के लोग पीछे ले जाने की बातें करते है। हम लोगों को समझाकर वोट लेना चाहते हैं, भाजपा गुमराह करके वोट लेती है। समाजवादी काम करते हैं, भाजपा के लोग झूठे वादे करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में नौजवानों को अब नौकरी नहीं मिलने वाली हैं। जब परीक्षा की तारीख आती है तो पेपर लीक हो जाते हैं। इस सरकार की नीयत युवाओं को नौकरी, रोजगार देने की नहीं है। समाजवादी सरकार में जो नौकरियां मिली थी उनसे भी पिछड़े नौजवानों को निकाल दिया गया है।
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने सबसे ज्यादा पिछड़े और दलित नौजवानों की नौकरी छीनने का काम किया है।  यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री जी दुनिया के तमाम देश घूम कर आ गए हैं, वे बताएं कि भारत में ही किसान आत्महत्या क्यों करते हैं?
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि योगी जी तो कमाल के मुख्यमंत्री हैं। गन्ना किसानों का बकाया भुगतान नहीं करा पा रहे हैं तो कह रहे हैं कि गन्ना मत पैदा करो। लोगों को शूगर हो रहा है तो कभी कहते हैं कि बंदर परेशान करें तो हनुमान चालीसा पढ़ो। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने समाजवादी पेंशन योजना बंद कर दी। हमारी सरकार आती तो हम 1 हजार रूपये महीना देते। अगली बार सरकार आने पर 2 हजार रूपये महीना देंगे।

 अखिलेश यादव ने कहा कि आज डीजल-पेट्रोल की मंहगाई से किसान बर्बाद है। हर चीज मंहगी हो गई है। उन्होंने कहा कि सरकार आयेगी तो विष्णु भगवान का मंदिर बनाएंगे। समाजवादियों से ज्यादा सम्मान कोई नहीं देता है। हम सभी वर्गों का सम्मान करते हैं।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव प्रो0 रामगोपाल यादव ने कहा कि देश में लोकतंत्र पूरी तरह खतरे में है। भाजपा ने नोटबंदी और जीएसटी लगाकर एक झटके में करोड़ों लोगों को बेरोजगार बना दिया। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा हर तिकड़म अपनाएगी। नई-नई पार्टी बनवाएगी। भाजपा के तमाम एजेंट प्रदेश में घूमने लगते है। इनसे सावधान रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अगर लोग भाजपा की चालों से सावधान न हुए तो बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। 
प्रो0 रामगोपाल ने कहा कि भाजपा दलित वर्ग को नौकरियों से वंचित करने की साजिश कर रही है। भाजपा दलितों, पिछड़ों की बात सिर्फ वोट लेने के लिए करती है, लेकिन उसकी नीयत बहुत खराब है।
आज डीजल-पेट्रोल की मंहगाई से किसान बर्बाद है। हर चीज मंहगी हो गई है,2019 का चुनाव ही 2022 का रास्ता खोलेगा:अखिलेश आज डीजल-पेट्रोल की मंहगाई से किसान बर्बाद है। हर चीज मंहगी हो गई है,2019 का चुनाव ही 2022 का रास्ता खोलेगा:अखिलेश Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 15:41 Rating: 5

अमेरिका के नाॅर्थ कैरोलिना में फ्लोरेंस तूफान का कहर


विलमिंगटन/नाॅर्थ कैरोलिना 15 सितंबर : अमेरिका के नाॅर्थ कैरोलिना में तूफान फ्लोरेंस के शुक्रवार को समुद्री तट से टकराने के बाद हुई भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण काफी तबाही हुई है। 
तूफान के कारण अब तक चार लोगों की मौत हो गयी है और जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। 
विलमिंगटन में तूफान के कारण पेड़ गिरने से एक महिला और उसके बच्चे की मौत हो गयी। पेड़ उनके घर पर गिरा जिसमें मां और बच्चे की मौत हो गयी जबकि बच्चे के पिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
नाॅर्थ कैरोलिना के पेंडर काउंटी में एक महिला की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गयी। मेडिकल टीम ने महिला तक पहुंचने की कोशिश की लेकिन सड़कों पर जमा मलबे के कारण मेडिकल टीम महिला तक नहीं पहुंच सकी। 


         राष्ट्रीय तूफान केन्द्र के मुताबिक विलमिंगटन के नजदीक हवा की रफ्तार लगभग 150 किलोमीटर प्रति घंटा है। 
तूफान के कारण 7,22,000 घरों और इमारतों की बिजली काट दी गयी है। प्रशासन के मुताबिक तूफान के कारण लाखों लोगों को कई सप्ताह तक बिना बिजली के रहना पड़ सकता है। संबंधित विभागों ने पुनर्वास में कई सप्ताह लगने की बात कही है। तूफान के कारण नार्थ कैरोलिना और साउथ कैरोलिना में एक मीटर तक बारिश की आशंका व्यक्त की गयी है। 

व्हाइट हाउस ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अगले सप्ताह प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर स्थिति का जायजा लेंगे।
अमेरिका के नाॅर्थ कैरोलिना में फ्लोरेंस तूफान का कहर अमेरिका के नाॅर्थ कैरोलिना में फ्लोरेंस तूफान का कहर Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 15:10 Rating: 5

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने युवती को बेरहमी से पीटने वाले वॉयरल वीडियो देख किया फोन ,पीटने वाला गिरफ्तार।


दिल्ली : सोशल मीडिया पर दिल्ली की एक युवती की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद केंद्र सरकार ने भी इस पर संज्ञान लिया। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के कड़े निर्देश के बाद दिल्ली पुलिस ने आरोपी रोहित तोमर को गिरफ्तार कर लिया और आगे की कार्रवाई की जा रही है। 

राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि एक लड़की को एक युवक द्वारा बेरहमी से पीटे जाने का एक वीडियो मेरे संज्ञान में आया है। मैंने दिल्ली पुलिस के कमिश्नर से फ़ोन पर इस बारे में बात की है और इस पर उचित कार्यवाही करने के लिए कहा है। वहीं, इस मामले में दिल्ली पुलिस ने बताया कि वीडियो 2 सितंबर का है और यह उत्तम नगर के एक बीपीओ में बनाया गया था। यह ऑफिस आरोपी युवक रोहित के दोस्त का है, जहां वो पिछले 20 दिन से लगातार आ रहा था।

सूत्रों के अनुसार रोहित पीड़ित लड़की से शादी करना चाहता था, लेकिन युवती ने इनकार कर दिया। इस पर युवक भड़क गया और उसने अपना गुस्सा लड़की पर उतार दिया। वायरल वीडियो में दिख रहा है कि युवक बड़ी बेरहमी से लड़की को लात, घूंसे और थप्पड़ मार रहा है। लड़की के बार-बार माफी मांगने पर भी युवक उसे लगातार पीटता रहा। लड़की ने बताया कि उसने पुलिस में इसकी शिकायत की थी, लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया। अब वीडियो वायरल होने पर पुलिस हरकत में आई है। बता दें कि आरोपी लड़के का पिता दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर है।
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने युवती को बेरहमी से पीटने वाले वॉयरल वीडियो देख किया फोन ,पीटने वाला गिरफ्तार। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने युवती को बेरहमी से पीटने वाले वॉयरल वीडियो देख किया फोन ,पीटने वाला गिरफ्तार। Reviewed by डिस्कवरी टाइम्स on 22:22 Rating: 5
Powered by Blogger.